UNSC में जीता भारत 192 वोटों में से मिले 184 वोट

UNSC में जीता भारत 192 वोटों में से मिले 184 वोट - पीएम मोदी ने जीत पे खुशी जाहीर कि

बुधवार को सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSCमें भारत को अस्थायी सदस्य चुना गया और भारत की इस जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जताई है। और पीएम मोदी ने कहा की हम वैश्विक शांति और सुरक्षा देने के लिए काम करेंगे। वैसे तो भारत को पहले से ही उम्मीद थी की इस बार भी सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद चुनाव में वह आसानी से जीत जाएगा। और सुरक्षा परिषद भारत को 2021-22 के कार्यकाल के लिए अस्थायी सदस्य के रूप में सयुंक्त राष्ट्र उच्च तालिका में लाएगा।


भारत को 192 वोटों में से मिले 184 वोट


भारत को सबसे पहली बार सुरक्षा परिषद चुनाव में 1950 को अस्थायी के रूप में चुना गया था। इस बार भारत को 192 वोटों में से 184 वोट मिले और इसी के साथ भारत दो वर्ष के लिए सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य बना गया है। ये दो वर्ष का कार्यकाल 1 जनवरी 2021 से शुरू होगा और यह 8वां मौका है जब सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत को चुना गया है। इसमे पांच स्थायी सदस्य और दस अस्थाई सदस्य हैं। टीएस त्रिमूर्ति ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी और लिखा कि, 'सदस्य देशों ने भारत को भारी समर्थन देते हुए 2021-22 तक के लिए यूएनएससी का अस्थायी सदस्य चुना है 192 वोटों में से भारत के पक्ष में 184 वोट पड़े हैं'। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्वीट 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा, 'सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत कि सदस्यता के लिए वैश्विक समुदाय द्वारा दिखाए गए भारी समर्थन के लिए दिल से आभारी हूं. भारत वैश्विक शांति, सुरक्षा और एकता को बड़ावा देने के लिए सभी सदस्य देशों के साथ मिलकर काम करेगा'।

UNSC में जीता भारत - पीएम मोदी बने गैर सदस्य
United Nations Security Council

यूनाइटेड नेशन (UN) के हेडक्वार्टर कोरोना की वजह से 15 मार्च से बंद पड़ा था जिसके वजह से वहाँ कोई चुनाव नहीं हो पाये फिर आज यहाँ पर तीन चुनाव कराए गए। जिसमे सभी सदस्य देशों ने सयुंक्त राष्ट्र महासभा के अगले प्रसिडेंट के लिए वोट किए गए और सयुंक्त राष्ट्र परिषद के पांच अस्थाई देशों के लिए भी वोट किए गए और सयुंक्त राष्ट्र आर्थिक व सामाजिक परिषद (ECOSOC) के लिए भी वोट किए गए। और भारत इस सयुंक्त राष्ट्र के 15 सुरक्षा परिषद में अस्थाई सदस्य के रूप में जीत कर शामिल हो गया।


इससे पहले भारत सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में 1950-51, 1967-68, 1972-73, 1977-78, 1984-85, 1991-92, 2011-2012 में चुना गया था और बुधवार को 2021-22 के लिए चुना गया है।

भारत के अलावा और कौन सदस्य बना

भारत के अलावा आयरलैंड, मैक्सिको और नार्वे ने भी सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सदस्यता में जीत हासिल की है। इस चुनाव में 192 देशों ने मतदान किया और जीतने के लिए 128 वोटों की आवश्यकता थी जिसमे भारत 184 वोटों से जीत गया। सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्य अमेरिका, चीन, रूस, फ्रांस और ब्रिटेन हैं।

भारत के अस्थाई सदस्य चुने जाने पर कौन बौखलाया 

सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत के अस्थाई सदस्य चुने जाने से चीन और पाकिस्तान बहुत बौखला गए हैं। चीन और पाकिस्तान बार बार भारत को सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अस्थाई सदस्य बनने के लिए बार बार अपनी नाकाम हरकतों से भारत के रास्ते के बीच में अटकले डाल रहे थे। लेकिन तब भी भारत को इस बार सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बनाने से कोई नहीं रोक सका। भारत को जीत के लिए 128 वोटों की जरूरत थी और भारत ने 194 वोटों में से 184 वोट जीत कर एक बार फिर सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बन गया।

वहीं पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा 'भारत इस मंच से उठाए जाने वाले सभी प्रस्तावों को खारिज करता रहा है खासकर कश्मीर जैसे मुद्दों को। और कहा कि कश्मीरियों को उनके हक नहीं दिये गए और उनका दमन जारी है। और आगे कहा कि भारत के अस्थाई सदस्य बनाने से कोई आसमान नहीं फट पड़ेगा पाकिस्तान भी सात बार अस्थाई सदस्य रह चुका है'।



टीएस त्रिमूर्ति ने क्या कहा 

टीएस त्रिमूर्ति ने कहा कि 'भारत का सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चुना जाना भारत के लिए बहुत अच्छी बात है जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच और उनके प्रेरणादायी वैश्विक नेतृत्व खासकर कोविड-19 के दौर का साक्षी है। और उन्होंने कहा कि भारत एक महत्वपूर्ण मोड़ पर सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का सदस्य बन रहा है। और हमे पूरा विश्वास है कि इस कोविड-19 के संकटकाल में और कोविड-19 के बाद दुनिया में भारत बहुपक्षीय प्रणाली को नई दिशा और पूरा सहयोग देगा'। और कहा कि हमारे लिए आतंकवाद से लड़ना सबसे पहले प्राथमिकता होगी हम सीमा पार के आतंकवाद से कई दशकों से प्रभावित हैं। और शांति बनाना ही हमारा परंपरा और पहचान का हिस्सा रहा है।

UNSC में जीता भारत - अमेरिका ने किया स्वागत

अमेरिका ने किया भारत की जीत का स्वागत

अमेरिका ने सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत को अस्थाई सदस्य चुने जाने पर गर्मजोशी से स्वागत किया है। अमेरिका ने कहा कि सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की जीत पर हम भारत को बधाई देते हैं और ये कामना करते हैं कि हम अंतर्राष्ट्रीय के शांति और सुरक्षा के मुद्दों पर एक साथ मिलकर काम करेंगे।


A1 Hindi News 24  द्वारा दी गई न्यूज़ कैसी लगी आपको अगर आपको किसी और बारे में जानकारी चाहिए हो तो नीचे कमेन्ट करके जरूर बताएं और हमारे इस ब्लॉग  a1hindinews24.com को फॉलो करे और शेयर करें। 

UNSC में जीता भारत 192 वोटों में से मिले 184 वोट UNSC में जीता भारत 192 वोटों में से मिले 184 वोट Reviewed by R. Kumar on 18 जून Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

अधिक जानकारी के लिए कमेंट करें

Blogger द्वारा संचालित.